भारत को हिंदुत्व विहीन बनाने के लिए चल रहा यह षड्यंत्र हो रहा है सफल

भारत को हिंदुत्व विहीन बनाने के लिए चल रहा यह षड्यंत्र हो रहा है सफलभारत को हिंदुत्व विहीन बनाने के लिए चल रहा यह षड्यंत्र हो रहा है सफल

 

इतिहास साक्षी है जब जब हिंदुत्व का क्षरण हुआ है तब तब देश टूटा है. इराक ईरान तक फैला ये देश सिमट कर रह गया है अफगानिस्तान, पाकिस्तान व् बंगलदेश तो ताजे उदहारण हैं.

हम इस भ्रम में हैं की हम देश को एक धर्म निरपेक्ष राष्ट्र बना रहे हैं उदाहरण व् मिशालें दी जाती हैं. हमारा प्रधान मंत्री सिख , कांग्रेस प्रेसिडेंट व् रक्षा मंत्री इसाई, उपराष्ट्रपति मुसलमान रहें हैं. इस सर्टिफिकेट से अच्छा क्या हो सकता है. पर हम किसे यह सर्टिफिकेट दिखाना चाह रहे हैं? कौन इस सर्टिफिकेट को मांग रहा है?

यह अक्सर सुनने में आता है सऊदी अरबिया ने बांग्लादेश संविधान से धर्मनिरपेक्ष शब्द को निकलवाया था. पर वही सऊदी अरबिया भारत के संविधान में धर्म निरपेक्ष शब्द  डलवा देता है. हिन्दुओं के खिलाफ गहरा षड्यंत्र है जिसे समझना आवश्यक हो गया है.

Loading...

चर्च ने तमिलनाडु व् केरल से हिन्दू धर्म का प्रभाव सदा सदा के लिए मिटा डाला. अरुणांचल , मिजोरम , नागालैंड तो ईसाई प्रदेश बन ही चुके हैं.पश्चिम बंगाल में धर्मनिरपेक्षता की ऐसी परिभाषा बना दी है की हिन्दू सांस लेने के लिए भी इधर उधर देखता है.

आंध्र में जबरदस्त धर्मपरिवर्तन अभियान कुछ रजनेता व् संगठनो ने विदेशी मदद से चलाया था जो अब खतरनाक हो चला है. कुछ दिनों में आन्ध्र एक और केरल बन जायेगा.कुछ राज्य अलग ध्वजों की मांग कर रहे हैं. अल्पसंख्यको के लिए विशेष योजनायें लाकर उन्हें उद्देश विशेष के लिए पोषित किया जा रहा है. तथा माइनॉरिटी के नाम पर सब हिन्दू विरोधी ताकतों को सरकारी प्रलोभनों से इक्कट्ठा किआ जा रहा है.

ऐसे में हिन्दुओं को कौन बचाएगा?

 

Follow us on facebook -