केरल के चर्च में पादरी ने बच्चो के शोषण के लिए बना रखा था “सेक्स चेम्बर” – गिरफ्तार

केरल के चर्च में पादरी ने बच्चो के शोषण के लिए बना रखा था "सेक्स चेम्बर" – गिरफ्तारकेरल के तिरुवनंतपुरम के एक चर्च के पादरी फादर देवराज को 10 साल की एक बच्ची के यौन शोषण के जुर्म में पकड़ा गया है।

65 साल का फादर देवराज कंदनथित्ता कैथलिक चर्च में पिछले एक साल से पादरी था। उसकी दरिंदगी की जांच कर रही पुलिस को चौंकाने वाली जानकारियां मिली हैं।

प्राप्त जानकारियों के अनुसार पादरी ने चर्च को बच्चों के यौन शोषण का अड्डा बना रखा था। हालांकि अभी तक औपचारिक तौर पर किसी और बच्चे की तरफ से ऐसी शिकायत सामने नहीं आई है। पुलिस को शक है कि पादरी ने पिछले एक साल में कई और बच्चों को अपना शिकार बनाया होगा।

हाल ही में पादरी ने चर्च में जिस बच्ची के साथ दरिंदगी की वो हर रविवार को बाइबल पढ़ने के लिए वहां आती थी। लोकल मीडिया के मुताबिक पादरी उसे अपने एक खास चेंबर में ले जाकर उसके साथ अश्लील हरकतें करता था। ये जगह चर्च के अंदर जीसस क्राइस्ट के क्रॉस के बिल्कुल करीब थी। शक है कि इसी चेंबर का इस्तेमाल वो अपनी हवस को शांत करने के लिए करता रहा होगा।

Loading...

बीते रविवार पीड़ित बच्ची के पिता उसे लेने के लिए तय समय से थोड़ा पहले पहुंच गए। वहां पर उन्होंने अपनी बेटी के साथ पादरी को आपत्तिजनक स्थिति में देखा तो पुलिस को फोन करके बुलाया।

फिलहाल पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत पादरी फादर देवराज को गिरफ्तार कर लिया है। उस पर बलात्कार की धारा भी लगाई गई है। कोर्ट ने पादरी को 14 दिन के लिए जेल भेज दिया है।

शुरुआती जांच में पुलिस को फादर देवराज की करतूतों की कई जानकारियां हाथ लगी हैं। यह भी पता लगाया जा रहा है कि उसकी इन हरकतों में क्या कुछ और लोग भी शामिल थे। उस सेक्स चेंबर को सील कर दिया गया है जहां पर पादरी बच्चों के साथ वहशीपन किया करता था। चर्च से जुड़े कुछ लोगों ने दावा किया है कि चेंबर में वो कॉल गर्ल्स को भी बुलाया करता था।

केरल ही नहीं, बल्कि देश भर के तमाम चर्च और मिशनरी स्कूलों से आए दिन बच्चों के यौन शोषण की ऐसी घटनाएं आम हैं। अक्सर इन मामलों में चर्च के पादरियों का हाथ पाया जाता है।

इसी साल के शुरू में केरल के कन्नूर के कैथोलिक चर्च में एक नाबालिग लड़की प्रेगनेंट हो गई थी, जिसके बाद उसके यौन शोषण की बात सामने आई थी। बाद में बच्ची ने एक संतान को जन्म भी दिया था। उस केस में आरोपी फादर रॉबिन वदक्कनचरी 28 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस के आगे पूछताछ में उसने अपना जुर्म कबूल किया था। वो मामला केरल में काफी सुर्खियों में रहा था।

 

Follow us on facebook -