मौलवी ने किया पैगम्बर मुहम्मद का अपमान, मुसलमानों ने खोला मोर्चा

गुजरात के अहमदाबाद में मौलवी पर धार्मिक भावनाएं आहत करने का अपराध है। मौलवी ने अपने बचाव में कोर्ट से अपील भी की है। परन्तु कोर्ट ने इस पुरे मामले में हस्तक्षेप करने से इनकार करते हुए कहा कि चूंकि मौलवी के खिलाफ चार्जशीट फाइल हो चुकी है, इसलिए उन्हें ट्रायल से तो गुजरना पड़ेगा।

मौलवी ने किया पैगम्बर मुहम्मद का अपमान, मुसलमानों ने खोला मोर्चा

पूरा मामला गुजरात के अहमदाबाद में सरसपुर का है। जंहा एक मौलवी ने अपने भाषण के दौरान कहा था कि, सभी इंसान मोहम्मद साहब के भाई हैं और सभी को उन्हें ‘भाई’ कहकर ही संबोधित करना चाहिए। बता दे कि,मौलवी ने यह भाषण 2009 में दिया था।

इस पुरे मामले के सामने आने के बाद सुन्नी अवामी फोरम के सेक्रेटरी ने मार्च, 2010 में उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी थी। जिसके बाद मौलवी को गिरफ्तार किया गया था। परन्तु बाद में बेल पर छोड़ दिया गया। उनके खिलाफ एक चार्जशीट भी फाइल की जा चुकी है।

मौलवी ने किया पैगम्बर मुहम्मद का अपमान, मुसलमानों ने खोला मोर्चा

Loading...

समाचार पोर्टल नवभारत टाइम्स द्वारा मिल रही जानकारी के अनुसार बाद मौलवी ने कोर्ट के सामने अर्जी रखी की, उनके ऊपर लगे चार्ज हटाए जाएं। कोर्ट में उनके पक्ष में दलील रखी गई कि जो लोग तकरीर के दौरान मौजूद थे, उन्होंने मौलवी साहब के इस भाषण पर कोई आपत्ति नहीं जताई और जो मौके पर मौजूद नहीं था, उसे आरोप लगाने का अधिकार नहीं। हालांकि, कोर्ट ने इस मामले में हस्तक्षेप से इनकार कर दिया है।

Follow us on facebook -