1 अक्टूबर से नये मूल्यों (एमआरपी) पर मिलेगा सारा सामान – सरकार ने कसी कमर

1 अक्टूबर से नये मूल्यों (एमआरपी) पर मिलेगा सारा सामान – सरकार ने कसी कमर

1 अक्टूबर बार से नये मूल्यों (एमआरपी) पर मिलेगा सारा सामान – सरकार ने कसी कमर

GST को लागू हुए 3 महीने पुरे होने को जा रहे हैं. कम्पनियों को पुराने एमआरपी वाले लेवलो का सामान बेचने अर्थात अपना स्टॉक क्लियर करने के लिए सरकार की दी हुई समय सीमा 30 सितम्बर को समाप्त हो रही है. एक अक्तूबर से पुराने अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) पर सामान नहीं बिकेंगे। देश में जीएसटी लागू होने से पहले बना माल जब्त हो सकता है। पुराने सामान बेचने की समयसीमा 30 सितंबर को खत्म हो रही है।

उपभोक्ता मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि 1 अक्तूबर से पुरानी और नई एमआरपी के साथ सामान बेचने की समय सीमा बढ़ने की संभावना कम है। यदि कोई आयातक या कंपनी आवेदन करती है, तो उस पर ‘केस टू केस’ स्तर पर इजाजत देने पर विचार हो सकता है।

1 अक्टूबर बार से नये मूल्यों (एमआरपी) पर मिलेगा सारा सामान – सरकार ने कसी कमरGST लागू होने के बाद तीन माह का मिला था समय
सरकार ने एक जुलाई से वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) लागू होने के बाद कंपनियों और आयातकों को पुरानी एमआरपी का माल खत्म करने के लिए तीन माह यानी तीस सितंबर तक समय दिया था। कहा गया था कि वह पुरानी एमआरपी के साथ नई एमआरपी लिखकर बाजार में अपना सामान बेच सकते हैं।

Loading...

उपभोता मंत्रालय ने राज्यों से मांगी जानकारी
मंत्रालय के मुताबिक नई एमआरपी के साथ बाजार में समान पहुंचाने के लिए तीन माह का वक्त बहुत है। ऐसे में इस छूट को आगे बढ़ाने की उम्मीद कम है। फिर भी उपभोक्ता मंत्रालय ने सभी राज्यों से इस बारे में जानकारी मांगी है। ताकि, तीस सितंबर से पहले तस्वीर साफ हो सके।

 

Follow us on facebook -