बड़ा खुलासा, ईसाई मिशनरी का मोहरा है बाबा वीरेंद्र

बड़ा खुलासा ईसाई मिशनरी का मोहरा है बाबा वीरेंद्रबड़ा खुलासा, ईसाई मिशनरी का मोहरा है बाबा वीरेंद्र

दिल्ली में बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के आध्यात्मिक विश्वविद्यालय पर छापेमारी और आश्रमों में सैकड़ों की संख्या में लड़कियों की बरामदगी की खबरें मीडिया में गर्म हैं.

माना जा रहा था कि बाबा हिंदू धर्म के नाम पर लोगों को बेवकूफ बना रहा था और लड़कियों का शोषण कर रहा था, लेकिन जांच में कई ऐसी बातें सामने आई हैं जो कई सवाल खड़े करती हैं.

बाबा और उसके सहयोगियों की गतिविधियों से जो बातें निकल कर सामने आ रही हैं उन्हें जानकर आप हैरान रह जाएंगे. इनके मुताबिक बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित हिंदू धर्मगुरु के आवरण में दरअसल ईसाई मिशनरियों के लिए कठपुतली के तौर पर काम कर रहा था.

Loading...

इस मामले पर दिल्ली हाई कोर्ट में चल रही सुनवाई में भी इस बात के संकेत सामने आए हैं. एक साधक का दावा है कि “हिंदू परिवारों की लड़कियों को आश्रम में रखा जाता था और धीरे-धीरे उन्हें हिंदू धर्म से दूर करके एक ऐसी अवस्था में पहुंचा दिया जाता था, जिसमें उनके हिंदू होने का कोई मतलब नहीं रह जाता था.” यह बात भी सामने आई है कि बाबा के आश्रमों में अक्सर कुछ विदेशी लोग भी आया-जाया करते थे.

 

NEXT कर आगे पढ़ें :- किस तरह ईसाई मिशनरियों से जुड़े है तार

Follow us on facebook -