प्रद्युम्न हत्याकांड – 11वीं का छात्र गिरफ्तार, लगे बेहद गंभीर आरोप

प्रद्युम्न हत्याकांड मामले 11वीं का छात्र गिरफ्तार, लगे बेहद गंभीर आरोपप्रद्युम्न हत्याकांड – 11वीं का छात्र गिरफ्तार, लगे बेहद गंभीर आरोप

 

गुडग़ांव के रेयॉन इंटनरेशनल स्कूल के प्रद्युम्न हत्याकांड मामले में नया मोड़ आ गया है। मामले की जांच करने वाली सीबीआई ने 11वीं कक्षा के एक छात्र को गिरफ्तार किया है। छात्र के पिता ने भी इसकी पुष्टि की है।

यह छात्र भी गुड़गांव का ही है. 11वीं के जिस छात्र को गिरफ़्तार किया गया है उसके पिता का कहना है कि उनका बेटा निर्दोष है.

टीवी चैनलों से बातचीत में उन्होंने कहा, “मैं पहले दिन से ही पुलिस की मदद कर रहा था. केस जब सीबीआई के पास गया तब भी हमलोगों ने मदद की. जब हरियाणा पुलिस के पास केस था तब भी मेरे बेटे से पूछताछ की गई थी.”

Loading...

उन्होंने कहा, “जब मुक़दमा सीबीआई के पास गया तो हमसे दिल्ली हेडक्वॉर्टर बुलाकर चार बार पूछताछ की गई. मंगलवर को भी सीबीआई ने हमें बुलाया था. हमलोग 11 बजे पहुंच गए थे. हमें वहां रात तक बैठाकर रखा गया और रात के बारह बजे बोला कि आपके बेटे ने हत्या की है और इसे गिरफ़्तार किया जाता है. गिरफ़्तार करने के बाद मुझे दो घंटे तक बैठाकर रखा गया.”

उन्होंने कहा, “मुझसे इन लोगों ने कहा कि जब तक आप अपने बेटे की स्वीकारोक्ति पर हस्ताक्षर नहीं करोगे तब तक बाहर नहीं जाओगे. मैं वहां से दो बजे रात में निकला हूं. मेरे बच्चे ने तो हत्या की सूचना माली और शिक्षक को दी थी. वो पूरे दिन स्कूल में रहा और उसने पेपर दिया. उसके कपड़ों पर एक दाग़ तक नहीं था. स्कूल से छुट्टी होने के बाद ही वो आया था.”

जिस लड़के को सीबीआई ने गिरफ़्तार किया है उसके बारे में कहा जा रहा है कि सबसे पहले प्रद्युम्न के शव को उसी ने देखा था और लोगों को बताया था.

 

मामले को लेकर सीबीआई जल्द ही एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर स्थिति को साफ करेगी। गिरफ्तार छात्र के पिता ने बताया कि वह शुरू से ही पुलिस और फिर सीबीआई की मदद कर रहे हैं। इसके बाद भी उनके ही पुत्र को फंसा दिया गया। उनके पुत्र ने किसी की हत्या नहीं की है।

 

सूत्रों ने बताया कि गिरफ्तार छात्र ने प्रद्युम्न के साथ ओरल सेक्स का प्रयास किया था और असफल रहने पर प्रद्युम्न का कत्ल कर दिया। हत्याकांड के बाद बस के कंडक्टर और ड्राइवर के परिवार ने बातचीत में कहा था कि स्कूल के जिस टॉयलेट में प्रद्युम्न की हत्या हुई थी वहां कोई और भी था।

 

आरोपित छात्र की मानसिक अवस्था सही नहीं थी और दवाई भी चल रही थी। वह प्रतिदिन स्कूल चाकू लेकर जाता था। सीबीआई ने बताया कि पीटीएम और एक्जाम टालने के लिए प्रद्युम्न की हत्या की गई थी।

Follow us on facebook -