प्रदेश के स्वास्थ्य केंद्रों पर सीधी नज़र रखेंगे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र

उत्तराखंड में गांव से लेकर शहरों तक अस्पतालों में बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत गंभीर हैं। मुख्यमंत्री यह सुनिश्चित कर रहे है कि अस्पतालों में समुचित इलाज मिल सके, साथ ही अस्पतालों में डॉक्टरो व स्टाफ के लापरवाह रवैये पर लगाम कसी जा सके।

मुख्यमंत्री अब प्रदेश के सभी अस्पतालों पर निगाह रखेंगे। सीएम इस बात की भी मॉनिटरिंग करेंगे कि कहां किस डॉक्टर ने कितने मरीज देखे और कितने ऑपरेशन किए। किस दिन कितने डॉक्टर छुट्टी पर हैं इसकी भी रिपोर्ट ली जाएगी। मुख्यमंत्री के निर्देश पर पारदर्शिता के लिए एक व्यवस्था बनाई गई है जिसके तहत अब सभी अस्पतालों को रोजाना एक तय फॉर्मेट के हिसाब से ब्यौरा भेजना होगा। इसके लिए स्वास्थ्य महानिदेशक की तरफ से अस्पतालों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। अस्पतालों को डॉक्टरों की अटेंडेंस, ओपीडी व इमरजेंसी में आए मरीजों की संख्या, कुल ऑपरेशन, पैथोलॉजी व रेडियोलॉजी जांच की संख्या, अस्पतालों में कौन सी मशीनें हैं, कितनी मशीनें सही काम कर रही हैं, कितनी मशीनें खराब हैं, इन सभी का ब्यौरा भेजना होगा। इन सभी जानकारियों को सीएम डैशबोर्ड पर अपलोड किया जाएगा जिससे सीधे मुख्यमंत्री इनकी निगरानी कर सकेंगे।

अस्पतालों पर निगरानी के अलावा मुख्यमंत्री हर महीने इसकी समीक्षा करेंगे और हर महीने किसी भी अस्पताल का औचक निरीक्षण करेंगे।

मुख्यमंत्री की इन कोशिशों को सरकारी अस्पतालों की दशा बदलने के लिए काफी अहम माना जा रहा है। इससे न सिर्फ आम लोगों को सस्ता व समुचित इलाज मिल सकेगा बल्कि स्वास्थय सेवाओं में पारदर्शिता भी बनी रहेगी।

Loading...
Follow us on facebook -