जानें – भीम में कैसे आया 10 हज़ार हाथियों का बल?

जानें – भीम में कैसे आया 10 हज़ार हाथियों का बल?

जानें कैसे - भीम में कैसे आया 10 हज़ार हाथियों का बल?

महाभारत की प्राचीन कथाओं में पाण्डु पुत्र भीम के बारे में माना जाता है की उसमे दस हज़ार हाथियों का बल था जिसके चलते एक बार तो उसने अकेले ही नर्मदा नदी का प्रवाह रोक दिया था।  लेकिन भीम में यह दस हज़ार हाथियों का बल आया कैसे इसकी कहानी बड़ी ही रोचक है।

कौरवों का जन्म हस्तिनापुर में हुआ था जबकि पांचो पांडवो का जन्म वन में हुआ था।  पांडवों के जन्म के कुछ वर्ष पश्चात पाण्डु का निधन हो गया। पाण्डु की मृत्यु के बाद वन में रहने वाले साधुओं ने विचार किया कि पाण्डु के पुत्रों, अस्थि तथा पत्नी को हस्तिनापुर भेज देना ही उचित है।

इस प्रकार समस्त ऋषिगण हस्तिनापुर आए और उन्होंने पाण्डु पुत्रों के जन्म और पाण्डु की मृत्यु के संबंध में पूरी बात भीष्म, धृतराष्ट्र आदि को बताई। भीष्म को जब यह बात पता चली तो उन्होंने कुंती सहित पांचो पांण्डवों को हस्तिनापुर बुला लिया।

Loading...

हस्तिनापुर में आने के बाद पाण्डवों के वैदिक संस्कार सम्पन्न हुए। पाण्डव तथा कौरव साथ ही खेलने लगे। दौडऩे में, निशाना लगाने तथा कुश्ती आदि सभी खेलों में भीम सभी धृतराष्ट्र पुत्रों को हरा देते थे। भीमसेन कौरवों से होड़ के कारण ही ऐसा करते थे लेकिन उनके मन में कोई वैर-भाव नहीं था।

संबंधित कथाएं 

यहाँ पर हुई थी महाभारत और पुराणों की रचना  व्यास गुफा

महाभारत के इन तथ्यों से आज भी अनजान हैं लोग

महाभारत अनुसार स्त्री हो या पुरुष, इन 5 कामों में देर करना अच्छी बात है

महाभारत के योद्धा दानवीर कर्ण की नगरी है कैराना, जाने ये एतिहासिक महत्व

महाभारत ग्रन्थ में 18 का रहस्य, जिसे जानकर आप भी दंग रह जायेंगे

जाने कृष्ण जी ने क्या किया -जब भीष्म ने बनाये पांडवो को मारने के लिए सोने के तीर

 

परंतु दुर्योधन के मन में भीमसेन के प्रति दुर्भावना पैदा हो गई। तब उसने उचित अवसर मिलते ही भीम को मारने का विचार किया।

दुर्योधन ने एक बार खेलने के लिए गंगा तट पर शिविर लगवाया। उस स्थान का नाम रखा उदकक्रीडन। वहां खाने-पीने इत्यादि सभी सुविधाएं भी थीं। दुर्योधन ने पाण्डवों को भी वहां बुलाया।

एक दिन मौका पाकर दुर्योधन ने भीम के भोजन में विष मिला दिया। विष के असर से जब भीम अचेत हो गए तो दुर्योधन ने दु:शासन के साथ मिलकर उसे गंगा में डाल दिया।

NEXT कर आगे पढ़ें :- क्या हुआ जब भीम को विष देकर गंगा जी में डाल दिया 

Follow us on facebook -