जानें आखिर क्यों कुरुक्षेत्र के युद्ध में आज तक एक भी योद्धा का शव नही मिला

कहा जाता है कि जिस दिन पितामह भीष्‍म ने अंतिम सांस ली थी उस दिन कुरुक्षेत्र की भूमि को जला दिया गया था. ऐसा इसलिए किया गया था ताकि युद्ध में मारे गए हर योद्धा केा स्‍वर्ग में जगह मिल सके और उनके शवों का शुद्धिकरण हो जाए.

महाभारत की ऐसी अनके घटनाएं हैं जिन पर विश्‍वास कर पाना बहुत मुश्किल है. कई लोग तो महाभारत युद्ध की वास्‍तविकता पर ही सवाल उठाते हैं लेकिन फिर भी इस युद्ध के सच होने के कई साक्ष्‍य मिल चुके हैं.

महाभारत का महायुद्ध कुरुक्षेत्र की भूमि पर द्वापर युग में हुआ है और इस युद्ध में पांडव पुत्रों ने धृत्‍राष्‍ट्र के सौ पुत्रों पर विजय हासिल की थी.

अन्य संबंधित लेख 

महाभारत के इन तथ्यों से आज भी अनजान हैं लोग

महाभारत अनुसार स्त्री हो या पुरुष, इन 5 कामों में देर करना अच्छी बात है

महाभारत ग्रन्थ में 18 का रहस्य, जिसे जानकर आप भी दंग रह जायेंगे

जानें महाभारत युद्ध में 18 की संख्या का महत्व

Loading...

तो क्या हड़प्पा सभ्यता महाभारत के परमाणु बम से नष्ट हुई ?? एक रहस्य

 

Follow us on facebook -